Griha Pravesh and Navgraha Shanti Puja-Rs 3601/- with Puja Samagri

WHY YOU YOU NEED THIS POOJA

Navgraha Shanti Puja at the time of Griha Pravesh is very advantageous to the devotees for happiness and prosperity to all family members.

Graha Pravesh Pooja is performed to purify the environment of the home and give protection from the evil eye. This pooja is an important ceremony required to be performed before shifting to any new house or Rented house. You may experience the chant of the first mantra by the pandit at your home as the Greha Pravesh pooja commences as you embark on the divine experience of a Vedic House warming Ceremony feeling full of positive waves. This pooja is performed to ensure peace and harmony in your new house. It is also believed that it drive away all negativity from the premises of your home and ensures the dweller to live peacefully.

Performing Navagraha Shanti Pooja is the most auspicious way to please all Graha and take blessing from them for well beingness of entire family. It provides the required strength to overcome the hardships and relief from all obstacles including betterment of finances and health.

Many a times we hear from frustrated people saying that they are going through very tough time. In spite of genuine efforts, they are not getting good results. This situation may occur if Grahas are bad effective, inauspicious, negative, bad houses in the Horoscope. Navgrahas constitutes of the Sun, Moon, Mars, Mercury, Jupiter, Venus, Saturn, Rahu and Ketu. Each of these nine planets exerts an impact in our lives.

By performing the Navgraha Shanti Puja, these grahas can be appeased for better results.

As per your convenience, Pandit ji will perform your auspicious pooja to fulfilment your desired wish. The main components of this puja are like Swasti vachanam, Gauri Ganesh Puja, Navgraha Shanti Jaap, Kalash puja and Navgraha Hawan etc. This may vary slightly from place to place.

Vastu Shanti Puja during Griha Pravesh grants mercy in case the construction of the building had caused any harm to any living thing like trees, animals, birds, insects, etc.

Procedure involved:

Swasti Vachan

Dwar Puja,

Gauri Ganesh puja

Kalash Navgraha Puja

Maa Annpurna Puja

Vastu Puja

Nav Graha Shanti Puja

Havan and prasad distribution.

Read More
Advantages of this Pooja:

    Advantages of this puja

    • It purifies the environment of the home and give protection from the evil eye.
    • An important ceremony required to be performed before shifting to any new house or Rented house.
    • You can embark on the divine experience of a Vedic House-warming Ceremony feeling full of positive waves with this pooja
    • It ensures peace and harmony in your new house.
    • Timely performance of Navagraha Shanti will save one from any kind of problems in life.
    • It eradicates overall planets related doshas.
    • It propitiates the malefic planets and strengthens the auspicious planets.
    • When you have multiple planetary afflictions in your horoscope, this puja is best.
    • It is extremely useful in enhancing domestic happiness and prosperity.
    • Problems related to marriage, career, relations and progeny etc. can be sorted out.
Your Pooja is Simplified

    Cost of Puja (No hidden charges)

    • Rs 3601/-Price is inclusive of Pooja Samagri. For what you need to arrange, please check the Pooja Samagri Column
    • No of Pandits: 1, Time: ~3Hrs
Price : Rs 4501/-
Special Price : Rs 3601/-
Location :At your home, Office or other place as per your request
Category : Ghar Pe Pooja/-

पंडित जी समय पर आकर विधि अनुसार पूजा करेंगे और उसके बाद हवन करेंगे.

    If you want some special pooja or pooja with more Pandits to be done, please write to us in detail through CONTACT US option or ON REQUEST-SPECIAL POOJA category under BOOK POOJA option.

इस पूजा के महत्

गृहप्रवेश के समय नवग्रह शांति पूजा करना भक्तों के लिए परिवार के सभी सदस्यों के सुख-समृद्धि के लिए अत्यंत लाभकारी होता है।

घर चाहे स्वयं का हो या फिर किराये का। पहली बार अपने घर में प्रवेश करने की खुशी कितनी होती है इसे महसूस कर सकते हैं । जब हम प्रवेश करते हैं तो नई आशा, नए सपने, नई उमंग स्वाभाविक रूप से मन में हिलोर लेती है। नया घर हमारे लिए मंगलमयी हो, प्रगतिकारक हो, यश, सुख, समृद्धि और सौभाग्य की सौगात दें यही कामना होती है। गृह प्रवेश के लिए शुभ मुहूर्त का ध्यान जरुर रखें। एक विद्वान ब्राह्मण की सहायता लें, जो विधिपूर्वक मंत्रोच्चारण कर गृह प्रवेश की पूजा को संपूर्ण करता है।

कई बार अचानक आपको घर रास नहीं आती, घर में क्लेष रहने लगता है । इसका एक मुख्य कारण हो सकता है कि आपने अपने गृह प्रवेश के दौरान जाने अंजाने वास्तु नियमों का पालन न किया हो। गृह प्रवेश से पहले पूजा जरुर करवायें।  घर में बने भोजन से सबसे पहले भगवान को भोग लगाएं। गौ माता, कौआ, कुत्ता, चींटी आदि के निमित्त भोजन निकाल कर रखें। ब्राह्मण को भोजन कराएं या फिर किसी गरीब भूखे आदमी को भोजन करा दें। इससे घर में सुख, शांति व समृद्धि आती है । मान्यता है कि ऐसा करने से घर में सुख, शांति व समृद्धि आती है व हर प्रकार के दोष दूर हो जाते हैं।

नौ ग्रहों के समूह सूर्य, चंद्रमा, मंगल, बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु और केतु को ज्योतिष में नवग्रह के रूप में जाना जाता है। इनमें से प्रत्येक ग्रह हमारे जीवन के कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं को बताते है और यह ग्रह हमारे जीवन को बड़े पैमाने पर प्रभावित करते हैं। इस संदर्भ में नवग्रह शांति पूजा नकारात्मक प्रभावों को कम करने और सकारात्मक ऊर्जा में सुधार करने के लिए की जाती है।

ग्रहों के अशुभ प्रभाव के कारण जीवन में अनेक तरह की समस्‍याएं आती हैं। ग्रहों का प्रकोप इतना खतरनाक होता है कि कोई व्‍यक्‍ति अपने ही हाथों से खुद को बर्बाद कर लेता है। ग्रहों के अशुभ प्रभाव के कारण आपका जीवन नर्क बन सकता है। भगवान शिव के पूजन के साथ नवग्रह पूजन का विशेष महत्व ग्रंथ-पुराणों में वर्णित है।

कोई भी ग्रह अशुभ स्‍थान में बैठा हो तो वह व्‍यक्‍ति के जीवन में विपरीत परिस्थितियां पैदा करता है। जिस कारण व्‍यक्‍ति का आत्‍मबल टूटने लगता है और उसका जीवन तनाव और चिंताओं से घिर जाता है।

नवग्रहों को शांत करने के लिए नवग्रह पूजन ही एकमात्र समाधान है।

•           नवग्रह पूजन से कोई एक ग्रह नहीं बल्कि पूरे नौ ग्रह प्रसन्‍न होते हैं और आपको एकसाथ नौ ग्रहों की कृपा प्राप्‍त होती है।

•           सुख-समृद्धि और मान-सम्‍मान की प्राप्‍ति के लिए आप नवग्रह पूजन करवा सकते हैं।

•           शिक्षा के क्षेत्र में तरक्की होती हैं।

•           विवाह में आ रही बाधाएं दूर होती है।

•           पारिवारिक जीवन अच्छा करने के लिए, परिवार में अच्छे संबंध हो और क्लेश न हो उसके लिए यह पूजा लाभकारी हैं।

•           अगर कोई बीमारी घर में किसी को लंबे समय से घेरे हुए है तो यह पूजा करानी चाहिए।

By Panditji

Hawan Samagri & Samidha, Gangajal, Roli-Moli, aam-patte, abeer/gulal, Tulsi, Doob graas, paan-patte-supari, Kapoor, Dhoop, Batti etc.

To be arranged by you (Devotee)

Ghee, Honey, Sweets, Fruits, Flower, Nariyal, Kalash, Hawan Kund.

Related Puja

Not A Member? Connect With Us...