Budha Graha Shanti Pooja Rs 3101/-

WHY YOU  NEED THIS POOJA

You need to perform Budha (Mercury) Graha Shanti Pooja, if placement of mercury in your horoscope is weak or you are facing ill effects of it, like; loss of wit, problems in communication skills, speech loss, business troubles, thinking process, writing skills, hypochondria, worry and skin related issues.

The planet of knowledge, education and wisdom is a smallest, closest to the Sun and fastmoving planet of our solar system. In graceful situation, it gives humour in the nature of person and improves speech patterns by which, the person becomes expressive and gets attention from everyone around.

Mercury Pooja is really a unique worship which can please this planet and bless you & your family with all his gifted attributes.

Read More
Advantages of this Pooja:
    • Mercury can bestow the gifts on the devotees like sharp intelligence and excellent communication skills.
    • Peace and prosperity in the life.
    • Success in succeeding in studies as well as career.
    • It is a great way to help the students in their academics and competitive exams.
    • Improves the management and administration skills.
    • It may be a useful remedy for those wishing to get rid of obesity.
Your Pooja is Simplified

    Your Pooja is Simplified at “AstroPandit Om”

    • Pooja Cost: Ghar pe Pooja (At your place-home or office) : Rs 3101/-. Price is inclusive of Pooja samagri. For details what you need to arrange, check Pooja Samagri Column below.
    • No of Pandits: 1, Time: ~4Hrs, No of mantras: 9000
Price : Rs 4101/-
Special Price : Rs 3101/-
Location :At your home, Office or other place as per your request
Category : Ghar Pe Pooja/-

निश्चित समय पर पंडित जी निर्धारित संख्या में आपकी सुविधा अनुसार 9000 मंत्रों का जाप करेेंगे और उसके उपरांत विधि विधान से हवन करेंगे।

    If you want some special pooja or pooja with more Pandits to be done, please write to us in detail through CONTACT US option or ON REQUEST-SPECIAL POOJA category under BOOK POOJA option.

इस पूजा के महत्‍व

ज्योतिष में बुध बुद्धि का प्रतीक है जो सभी परिस्थितियों तथा सम्बन्धों में समान रूप से सक्रिय हो सकता है। ज्योतिष शास्त्र में बुध ग्रह बुद्धि, व्यापार, शिक्षा, गणित, गार्डेन, वृक्ष, चांदी, वृक्षारोपण, जमीन, विष्णु, अध्यापक, विद्वान, भाषा, ड्राइवर, लिपिक, ब्रेन, मेन्टल संतुष्टि इत्यादि का कारक ग्रह है। बुध ग्रह यदि अनुकूल स्थिति में है तो जातक को बौद्धिक सुख प्रदान करता है। जातक बौद्धिकता की पराकाष्ठा का अनुभव करता है इसी के कारण समाज में मान-सम्मान और प्रतिष्ठा को प्राप्त करता है। यदि बुध जन्मकुंडली में शुभ स्थिति में है तो यह जातक की सभी इच्छाओं को पूर्ण करने की शक्ति रखता है परन्तु यदि अगर बुध अशुभ स्थिति में है तो मान-सम्मान, प्रतिष्ठा तथा बुद्धि को नष्ट करता है।

बुध ग्रह शांति के उपाय करने से निश्चित ही आपको बुध ग्रह के शुभ फल प्राप्त होंगे और आपकी बौद्धिक, तार्किक एवं गणना शक्ति में वृद्धि होगी। इसके साथ ही आपकी संवाद शैली में निखार आएगा। ज्योतिष में बुध ग्रह को एक तटस्थ ग्रह माना गया है, यह दूसरे ग्रहों की संगति के अनुसार ही फल देता है। वैदिक शास्त्रों में बुध ग्रह का संबंध भगवान विष्णु जी से है। अतः बुध शांति के उपाय करने से भगवान विष्णु का आशीर्वाद प्राप्त होता है। बुध ग्रह का वर्ण हरा है इसलिए बुध ग्रह शांति के लिए हरे रंग के कपड़ों को धारण अथवा दान किया जाता है। बुध ग्रह का बीज मंत्र है। ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः! सामान्य रूप से बुध मंत्र को 9000 बार जपना चाहिए। हरा रंग अथवा ग्रीन कलर के सभी शेड्स के कपड़े पहन सकते हैं। बहन, बेटी अथवा छोटी कन्या का सम्मान करें। बहन को उपहार भेंट करें। दान करने वाली वस्तुएँ- साबुत मूंग, पालक, कांस्य के बर्तन, नीले रंग के पुष्प, हरी घास, हरे रंग के कपड़े, हाथी के दांतों से बनी वस्तुएँ इत्यादि।

बुध ग्रह को प्रसन्न करने के उपाय:

  • इस दिन भगवान विष्णु की पूजा किए जाने से बुध ग्रह प्रसन्न हो जाते हैं।
  • इस दिन श्री विष्णुसहस्रनाम स्तोत्र का जाप करना चाहिए।
  • बुधवार के दिन हरे रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

To be arrnged by Panditji

Hawan Samagri & Samidha, Gangawater, Roli-Moli, aam-patte, paan-patte-supari, Kapoor, Dhoop, batti etc.

To be arrnged by you (Devotee)

Milk, curd, Cow Ghee, Honey, Fruits, Panchmewa, Sweets, Flower, Mala, Nariyal, Kalash, Hawan Kund.

 

Related Puja

Not A Member? Connect With Us...